January 18, 2022

बिंदास अक्स

हमेशा सच के साथ

कोरोना आपदा में प्रत्येक व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देना जरूरी : यशपाल

1 min read

उपायुक्त यशपाल ने बीके अस्पताल में स्वास्थ्य अधिकारियों की मीटिंग में दिए निर्देश 
फरीदाबाद, 09 मई। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान स्वास्थ्य विभाग के प्रत्येक अधिकारी कर्मचारी की जिम्मेदारी कई गुना बढ़ गई है। प्रत्येक पीडि़त व्यक्ति स्वास्थ्य कर्मी की तरफ उम्मीद भरी नजरों से देखता है और हमें भी उन्हें हर संभव स्वास्थ्य सुविधा देकर अपना फर्ज निभाना है। यह वह समय है जब हमें दिन रात मेहनत कर मरीजों की जान बचानी है। उपायुक्त यशपाल रविवार को बी के नागरिक अस्पताल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मीटिंग को संबोधित कर रहे थे।  बी के नागरिक अस्पताल प्रागण में आयोजित कोविड- 19   समीक्षा मीटिंग में उन्होंने स्वस्थ सुविधाओं से जुड़े विषयों जिसमे आरटीपीसीआर टैस्टिंग बढ़ाने औऱ टेस्ट करने वाली  प्रयोगशालाओ की क्षमता बढऩे के निर्देश दिए। इसके साथ ही रैपिड एंटीजेन्ट टैस्टिंग पूरी योजना बनाने, उसके आंकड़ों( डेटा ) को समय रहते ऑनलाईन अपलोड करने के लिए मैनपावर की भी व्यवस्था करने के निर्देश भी उन्होंने दिए। उपायुक्त यशपाल ने उपस्थित अधिकारियों को  सख्त निर्देश दिये कि जिले में कम से कम  8-10 हजार लोगो की कॅरोना की जांच प्रतिदिन सुनिश्चित की जाये। इसके साथ निजी लैब डेटा जल्द से जल्द समय रहते पोर्टल पर अपलोड करें यह भी सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि निजी प्रयोगशालाओं द्वारा सरकारी आदेशों की अनुपालना न किए जाने पर आवश्यक एवं सख्त दंडात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने डॉ चोपड़ा की टीम को  विशेष आदेश दिए कि उनकी टीम सभी इंसीडेंट कमांडरों को सुबह 10 बजे से पहले उनके एरिया में पाए नए कॅरोना मरीजों की सूची सांझा करेगी और इस संबंध में कोई ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इंसिडेंट कमांडर इन मरीजो की कांटेक्ट ट्रेसिंग बूथ लेवल कमेटी से करवाना सुनिश्चित करेगें। उन्होंने डॉ गजराज को निर्देश दिए कि कौनसी पीएचसी/ सीएचसी को कौनसे  डीसीएच / डीसीएचसी अस्पताल के साथ अटैच किया गया है इन सभी की सूचि भी इंसिडेंट कमांडर के साथ साझा किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *